Crop residue burning in North India affects rest of India too: study

Crop residue burning in Punjab and Haryana is often blamed for worsening air quality in the Delhi National Capital Region. Now a new study by scientists working in the US and India has found that impact of crop residue burning in the Northwest region can spread as far as central and southern states – Maharashtra,… Read More Crop residue burning in North India affects rest of India too: study

जैव विविधता को नुकसान पहुंचा रही हैं लघु जलविद्युत परियोजनाएं

लघु जलविद्युत परियोजनाओं को स्वच्छ ऊर्जा का स्रोत माना जाता है। लेकिन, भारतीय वैज्ञानिकों के एक ताजा अध्ययन से पता चला है कि इन परियोजनाओं के कारण पारिस्थितिक तंत्र और जैव विविधता को लगातार नुकसान हो रहा है। वाइल्ड लाइफ कन्जर्वेशन सोसायटी ऑफ इंडिया के वैज्ञानिकों द्वारा पश्चिमी घाट में किए गए इस अध्ययन में… Read More जैव विविधता को नुकसान पहुंचा रही हैं लघु जलविद्युत परियोजनाएं

Is zero budget natural farming an answer to the farm crisis?

A paper by Srijit Mishra probes into alternative methods of agriculture that would require less credit while also addressing other concerns on the agricultural crisis as also the agrarian crisis. Zero budget natural farming is discussed in particular. “It has been a matter of concern that the smallholders (includes marginal and small farmers) who have… Read More Is zero budget natural farming an answer to the farm crisis?

Environment justice stories

The CPR-Namati Environmental Justice Program has recently come up with a compilation of articles written by barefoot advocates, also called as “Enviro-legal Coordinators”, about the cases they have worked on with affected communities. The publication titled ‘Making the law count: Ten environment justice stories by community paralegals in India’ chronicles its conviction that putting law… Read More Environment justice stories

पोषण और आमदनी का जरिया बन सकती हैं झारखंड की सब्जी प्रजातियां

गरीब और पिछड़ा माने जाने वाले झारखंड जैसे राज्यों के जनजातीय लोग कई ऐसी सब्जियों की प्रजातियों का उपभोग अपने भोजन में करते हैं, जिनके बारे में देश के अन्य हिस्सों के लोगों को जानकारी तक नहीं है। भारतीय शोधकर्ताओं ने झारखंड के स्थानीय आदिवासियों द्वारा उपयोग की जाने वाली ऐसी पत्तेदार सब्जियों की 20… Read More पोषण और आमदनी का जरिया बन सकती हैं झारखंड की सब्जी प्रजातियां